सामुदायिक शौचालय, 7 निश्चय

 गया : जिला पदाधिकारी, गया श्री अभिषेक सिंह द्वारा शेरघाटी अनुमंडल अंतर्गत विभिन्न क्षेत्रों का भ्रमण कर सामुदायिक शौचालय, 7 निश्चय अंतर्गत हर घर नल का जल, पक्की नाली गली, जीविका को स्वावलंबी तथा स्वरोजगार हेतु एलईडी बल्ब का निर्माण इत्यादि कार्यों का निरीक्षण किया गया। 

Advertisement

जिला पदाधिकारी द्वारा आज शेरघाटी अनुमंडलीय अस्पताल परिसर में मरीजों एवं उनके परिजनों की सुविधा हेतु जीविका दीदी द्वारा संचालित *”दीदी की रसोई”* का उद्घाटन फीता काटकर किया।

    जिला पदाधिकारी ने रसोई घर का विस्तार से निरीक्षण करते हुए जानकारी प्राप्त किया। उन्होंने निर्देश दिया कि स्वच्छ, साफ सुथरा एवं स्वास्थयप्रद अच्छा भोजन इसी परिसर में उपलब्ध कराना दीदी के रसोई घर की विशेषता होगी। उन्होंने कहा कि आगे भी यह रसोईघर मरीजों एवं उनके परिजनों को स्वच्छ, सस्ता एवं उत्तम भोजन तथा नाश्ता उपलब्ध कराएगी, ऐसी उन्हें अपेक्षा है। जिला पदाधिकारी ने जीविका दीदी द्वारा बनाए गए व्यंजन का भी स्वाद लेते हुए इसकी सराहना की। इस अवसर पर सिविल सर्जन, अनुमंडल पदाधिकारी, शेरघाटी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक, जीविका, जिला कार्यक्रम प्रबंधक, स्वास्थ्य, अनुमंडलीय अस्पताल के चिकित्सकगण, कर्मीगण, आम जन उपस्थित थे।

इसके पश्चात जिला पदाधिकारी द्वारा डोभी प्रखंड अंतर्गत पचरतन पंचायत के बहेरा ग्राम में महादलित टोला जमुनिया टांड में छ: यूनिट वाले सामुदायिक शौचालय तथा नलकूप के निरीक्षण किया। जिला पदाधिकारी ने वार्ड सदस्य जो नलकूप ऑपरेटर भी हैं, से जलापूर्ति के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त किया। साथ ही विद्युत मोटर के बारे में भी जानकारी प्राप्त की। वार्ड सदस्य द्वारा बताया गया कि नलकूप योजना का प्रारंभ 13 फरवरी 2020 को किया गया। इसके माध्यम से 95 घरों वाले महादलित टोला में जल की आपूर्ति की जा रही है। सामुदायिक शौचालय के दीवारों पर स्वच्छता संबंधी स्लोगन लिखने हेतु वार्ड सदस्य एवं प्रखंड विकास पदाधिकारी को निदेश दिया गया।

तत्पश्चात जिला पदाधिकारी द्वारा बहेरा महादलित टोला में निर्माण हुए पक्की गली नाली योजना का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के क्रम में केवल गली का निर्माण होने एवं नाली का निर्माण छोड़ दिए जाने पर अप्रसन्नता व्यक्त करते हुए प्रखंड विकास पदाधिकारी, डोभी, मुखिया, वार्ड सदस्य एवं कनीय अभियंता से पूछा कि किस परिस्तिथि में नाली का निर्माण न कर, केवल गली का निर्माण किया गया?

उन्होंने तत्कालीन कनीय अभियंता तथा वार्ड सचिव श्री शैलेन्द्र सिंह वर्मा से स्पष्टीकरण पूछने का निदेश प्रखंड विकास पदाधिकारी को दिया। साथ ही *बहेरा ग्राम में निर्मित गली के निर्माण के पश्चात नाली तथा नाली के अंतिम छोर पर सोख्ता का निर्माण अतिशीघ्र कराने का निदेश प्रखंड विकास पदाधिकारी, मुखिया, वार्ड सचिव, वार्ड सदस्य को दिया।*  जिला पदाधिकारी द्वारा महादलित टोला बहेरा में उपस्थित लोगों से राशन कार्ड की उपलब्धता, सामाजिक सुरक्षा अंतर्गत पेंशन की उपलब्धता के बारे में लोगों से जानकारी प्राप्त किया। कुछ लोगों ने बताया कि उन्हें राशन कार्ड नहीं मिला है तथा पेंशन योजना का लाभ भी नहीं मिल रहा है। हालांकि लगभग 75 राशन कार्ड लोगों को उपलब्ध कराने की बात प्रखंड विकास पदाधिकारी द्वारा बताया गया। साथ ही सामाजिक सुरक्षा पेंशन मिलने की भी बात बताई गई।

जिला पदाधिकारी ने उपस्थित लोगों से शौचालय नहीं बनाने का कारण पूछा तो लोगों ने बताया कि उनके पास जमीन नहीं है। जिला पदाधिकारी ने लोगों को बताया कि आप सबों के लिए ही सामुदायिक शौचालय का निर्माण कराया गया है। भ्रमण के क्रम में कुछ लोगों ने आवास ना होने की बात बताई तथा शपथ पत्र की समस्या के बारे में भी उन्हें बताया गया। जिला पदाधिकारी ने लोगों से कहा कि आवास हेतु शपथ पत्र की आवश्यकता नहीं है केवल स्वघोषणा पत्र देना आवश्यक होगा। *जिला पदाधिकारी ने प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी, पंचायत सचिव, मुखिया, वार्ड सदस्य, जीविका, icds  सहित अन्य पदाधिकारी एवं कर्मियों को निर्देश दिया कि *कल दिनांक 24.12 2020 को पूर्वाहन 10:30 बजे से कैंप लगाकर जिन्हें राशन कार्ड नहीं मिला, आवास की समस्या, पेंशन नहीं हो पा रहा, सहित अन्य समस्याओं के बारे में आवेदन पत्र दे, इसी कैंप में आपकी समस्याओं का निराकरण करने का प्रयास किया जाएगा।*

   जिला पदाधिकारी द्वारा पुराने डोभी प्रखंड कार्यालय में जाकर जीविका दीदी द्वारा एलईडी बल्ब निर्माण कार्य का निरीक्षण किया गया। उन्हें बताया गया कि  अपरंपरागत ऊर्जा स्रोत (सोलर एनर्जी) की तकनीक का उपयोग करते हुए जीविका दीदी द्वारा सोलर लाइट एवं सोलर बल्ब का निर्माण किया जा रहा है। बताया गया कि जीविका वूमेन इनीशिएटिव रिन्यूबल एनर्जी एंड सलूशन प्राइवेट लिमिटेड डोभी द्वारा एलईडी बल्ब एवं सोलर लैंप का निर्माण किया जा रहा है।

   जे- वायर्स कंपनी के पदाधिकारियों ने बताया कि हम इस क्षेत्र में जीविका दीदी के माध्यम से काफी आगे बढ़ रहे हैं। स्ट्रीट लाइट के क्षेत्र में भी हम जल्द अग्रसर होंगे। गया जिले में लगभग 316 शॉप का संचालन किया जा रहा है। जीविका दीदियों ने जिला पदाधिकारी को बताया कि 1 दिन में 1000 बल्ब तैयार किया जा रहा है। जिला पदाधिकारी ने जे-वायर्स कंपनी को आश्वासन दिया कि जीविका दीदियों को स्वावलंबी एवं स्वरोजगार देने हेतु हरसंभव मदद जिला प्रशासन द्वारा किया जाएगा।

   जिला पदाधिकारी द्वारा पंच रतन पंचायत में धान अधिप्राप्ति की जानकारी लिया गया। प्रखंड विकास पदाधिकारी डोभी द्वारा बताया गया कि इस प्रखंड में 13 पैक्स हैं, जिनमें से 11 पैक्स क्रियाशील है। उनके द्वारा धान खरीदा जा रहा है। प्रखंड विकास पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि पैक्स धान में नमी होने की बात बता रहे हैं। जिला पदाधिकारी द्वारा नाराजगी व्यक्त करते हुए प्रखंड विकास पदाधिकारी तथा अनुमंडल पदाधिकारी को निर्देश दिया कि जो पैक्स किसानों से धान खरीद करने में आनाकानी कर रहे हैं उनकी जांच कर कार्रवाई सुनिश्चित करें। उन्होंने पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि अधिक से अधिक धान किसानों से क्रय करें।

   जिला पदाधिकारी के समस्त भ्रमण कार्यों में अनुमंडल पदाधिकारी शेरघाटी, संबंधित प्रखंड के प्रखंड विकास पदाधिकारी, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी श्री शंभू नाथ झा सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

➖AnjNewsMedia

Leave a Comment

You cannot copy content of this page

error: Content is protected !!